Download PDFS free all exams current affairs gk reasoninga

क्या आप जानते है ? भूकंप क्या है ‌‌। What are Earthquake in hindi 2021

Date / September 21, 2021

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on pinterest
Share on telegram
भूकंप क्या है ‌‌। What are Earthquake

भूकंप क्या है ‌‌। What are Earthquake

भूकंप प्राकृतिक संकटों में से एक सबसे खतरनाक तथा Earthquake kya hai विनाशकारी आपदा है । यह विवर्तनिक शक्तियों द्वारा भूपर्पटी के किसी भाग का अकस्मात् विस्थापना है । इनके ‌द्वारा तरंगे उत्पन्न होती हैंं जो की हलचल वाले बिंदु से चारों तरफ चलते हैं भूकंप का आना एक प्राकृतिक घटना है । भूकंप प्राय बिना किसी पूर्व चेतावनी के आते हैं ।

सामान्यत: भूकंम नवनिर्मित वलित पर्वतीय क्षेत्रो में बार बार आते रहते है | ये पर्वतीय क्षेत्र अपेक्षाकृत अस्थिर होते है | जिस स्थान पर पृथ्वी के अन्दर भूकंप की तरंगे उत्तपन होते है उसे भूकंप उद्गम केंद्र( Seismic focus )कहते हैं | उद्गम केंद्र के ऊपर भू-पृष्ठ पर स्थित बिंदु को अधिकेंद्र( Epiccentre ) कहा जाता है आज केंद्र के निकट भूकंप की कंपनो की तीव्रता अधिकतम होती है, लेकिन अधिकेंद्र से जैसे-जैसे दूरी बढ़ जाती है, वैसे-वैसे कंपनो की तीव्रता कम हो जाती है |

Also check this

भूकंप के कारण ( cases of earthquakes )

भूकंप प्रायःभूपर्पटी अस्थिर (unstable) भागों में आते हैं | जब विवर्तनिक शक्तियों द्वारा भूपर्पटी का कोई भाग अचानक विस्थापित अथवा हट जाता है तब इसके द्वारा तरंगे (tremors) उत्पन्न होते हैं, जब हलचल वाली केंद्र से चारों तरफ चलती हैं | भूपर्पटी का निर्माण भारी तथा ठोस परस्पर जुड़ी चट्टानों से होता है, इन्हें विवर्तनिक प्लेटें (tectonic plates) कहा जाता है |

यह विशालकाय ब्लॉक ( block ) अदर्ध तरल चट्टानों( semi liquid rocks) के ऊपर तैरते हैं, जिन्हें मैटल( Mantle )कहा जाता है | विवर्तनिक प्लेटों के बीच टकराव या गति उनके बीच दबाव उत्पन्न कर देती हैं | भूकंप की तरंगे से भू-पृष्ठ के भागों का ऊर्ध्वाधर और विस्थापन ( vertical and horizontal displacement) हो जाता है | इसके परिणामस्वरूप भू-पृष्ठ पर काफी दूर तक दरारे पड़ जाती है |इन गतियों से कंपन (vibration) ठीक उसी प्रकार उत्पन्न होती है, जिस प्रकार पानी में एक छोटा-सा पत्थर फेंकने पर छोटी-छोटी लहरें (Ripple) पैदा होता है |

भूकंप के बारे में ना तो भविष्यवाणी की जा सकती है और ना ही उन्हें रोका जा सकता है (earthquake are neither predictable and preventable)

जैसे कि हम जानते हैं कि भूकंप एक प्राकृतिक प्रघटना है | इसके द्वारा बिना किसी पूर्व चेतावनी के व्यापक स्तर पर विनाश होता है | दूसरी तरफ, चक्रवात तथा बाढ़ विपदाएं (hazard) है | इनके द्वारा जान-माल (life and property) की जबरदस्त हानि की जाती है | अतः, इसके आने के बारे में कुछ सीमा तक पूर्वानुमान (anticipating) किया जा सकता है तथा सहायता कार्य किया जा सकता है |

भूकंप चूँकि बिना किसी पूर्व चेतावनी या सूचना के आते हैं अतः इसके विषय में ना कुछ तो पूर्व भविष्यवाणी की जा सकती है और ना ही उन्हें रोका जा सकता है | पूर्वनिवारणीय उपायों (percautionary Measure) के जरिए हम भूकंप से होने वाली सीट को कुछ सीमा तक कम कर सकते हैं |

यह कहने से ही कि भूकंप से आपदाएं आती है लेकिन व्यापक रूप से हानि भवनों, पुलों, बाधो, के टूटने तक भू स्खलन (landslide) आदि से होते हैं | यह नुकसान और अधिक गंभीर हो जाता है यदि भवनों का निर्माण अभियंत्रिकी (engineering standard) के अनुकूल नहीं होता है तथा भवन संकट-रोधी नक्शे (Disasterresistant design) के अनुरूप नहीं बनाए जाते है |

भूकंप मापने (measuring of earthquake)

भूकंप-तरंगो की तीव्रता तथा उसके समय की अंकित करने वाले यंत्र की भोकंपलेखी (seismograph) कहा जाता है | भूकंप के परिमाण तथा तीव्रता (Magnitude and Intensity) को निम्नलिखित पैमानी(scale) के द्वारा नापा जाता है :

1. रिक्टर पैमाना (richter scale ) 2. मोडीफीद मर्केली पैमाना (modified mer

यह भी पढ़ें ↓

Latest Post

IQ Boost