What is Seva Bhoj Yojana ” Government New scheme in Hindi ” ( सेवा भोज योजना क्या है )

March 4, 2021

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on pinterest
Share on telegram
सेवा भोज योजना Sava Bhoj Yojana Hindi

सेवा भोज योजना क्या है ( What is seva Bhoj scheme )

हम आपको बता दे की  केंद्रीय सरकार कुछ समय पहले ही एक नई योजना स्टार्ट की है जैसे कि आप जानते ही है कि आये दिनो मे सरकार नई – नई योजना लाती रहती है । उसी प्रकार इस बार भी सरकार एक नई योजना लाई है जिसका नाम ‘सेवा भोज योजना’ (Seva Bhoj Yojana ) है इस योजना के मदद से लंगर मे इस्तेमाल किए जाने वाली सभी सामग्रियों पर जो GST पैसे लगते है इस योजना के तहत लगने वाले GST के पैसों को सरकार वापस कर देगी, चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स के द्वारा मुफ्त में लोगों को खाना खिलाया जाता है जिससे उनपर पड़ने वाले GST के खर्चे को  बचाया जा सके .

(Seva Bhoj Yojana ) इस योजना को Central Government द्वारा चलाया गया है हम आपको बता दे की  इसकी जानकारी 1 जून को इनफार्मेशन मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर  के द्वारा हमे बताई गई है इससे होने वाले लाभ इस प्रकार है इनफार्मेशन मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार सेंट्रल गवर्नमेंट इस पुरे देश मे चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स और अन्य चैरिटेबल इंस्टीटूशन्स के द्वारा भरे गए (CGST) और  (IGST) का टैक्स के पैसों को वापस करने की घोषणा की है ।

1. असल में आप जानते ही है की देश भर मे Goods and Services Tax (GST) का लागु होने के बाद चैरिटेबल जैसे की — मस्जिद , मंदिर,चर्च , गुरुद्वारा और इत्यादि  जगह जहा लोगो को मुफ्त मे खाना पानी इत्यादि  दिए जाते है । वहा उसको बनाने मे इस्तेमाल  होने वाली सभी चीजे जैसे की — (दाल, चीनी, आटा इत्यादि ) पर लगाये गये सभी टैक्स  के कारण चैरिटेबल  चलाने वाले लोगो पर बहुत हि  भार पड जाता है । इसको कम करने के लिए सरकार सेवा भोज योजना  ( Seva Bhoj Yojana ) जारी किया है ।

2. सेवा भोज योजना  ( Seva Bhoj Yojana ) इस योजना के तहत सभी चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स को काफी लाभ होगा इन पर  अब आर्थिक  भार नही पड़ेगा सरकार का बस यही मकसद है की सभी  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स  को कोई भी दिक्कत ना हो अब सभी सामग्रियों पर  लगने वाले सभी टैक्स के पैसे को वापस कर देगी । जिनका इस्तेमाल  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स  किसी और काम मे कर सकती है ।

सेवा भोज योजना का बजट  ( Seva Bhoj budget )

सेंट्रल गवर्नमेंट के द्वारा  जारी किया गया नोटिफिकेशन  के अनुसार सेवा भोज योजना’  ( Seva Bhoj Yojana ) लिए 325 करोड़ रुपए बाँटेगी यह योजना फ़ाइनेंशियल ईयर 2018-19 और 2019-20 के लिए बनाया गया है. इसके अंतर्गत इस योजना का लाभ सब चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स मिल जायेगा ।

सेवा भोज योजना की जानकारी  ( Information about Seva Bhoj Yojana ) 

 

 भोज योजना का नाम 

सेवा भोज योजना (Seva Bhoj Yojana)

योजना की घोषणा की गई 1 जून 2018 (Seva bhoj yojana launched date)

सेवा भोज योजना (Seva Bhoj Yojana )  किसने शुरू की

सेंट्रल गवर्नमेंट
इस योजना से किसको लाभ मिलेगाचैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स

सेवा भोज योजना ( Seva Bhoj Yojana )  का बजट 

325 करोड़ बजट   है ।
कीस चीजों पर   पैसे रिफंड होगा  भंडारा  / लंगर /प्रसाद /भोजन
 
सेवा भोज योजना क्या है ( What is seva Bhoj scheme )
‘सेवा भोज योजना’ (Seva Bhoj Yojana ) है इस योजना के मदद से लंगर मे इस्तेमाल किए जाने वाली सभी सामग्रियों पर जो GST पैसे लगते है इस योजना के तहत लगने वाले GST के पैसों को सरकार वापस कर देगी, 
 

सेवा भोज योजना का बजट  ( Seva Bhoj budget )

325 करोड़ रुपए
 

पैसे रिफंड कैसे किए जाएंगे  ( How to refund money )

मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार जितने भी लोग  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स जुडे है ।जब भी वह किसी भी सामान को खरीदने जायेंगे तो उनको सबसे पहले जितना भी जी एस टी (GST) का बिल आयेगा वह भरना होगा उसके बाद जो बिल मिला होगा उस बिल को सरकार को दिखाना होगा तब जाकर  उस बिल के हिसाब उन इंस्टीटूशन्स  को जितना जी एस टी, (GST) खाने की सामग्री को खरीदने के दौरान भरा होगा उनको वह पैसे वापस दे दिये जायेंगे । 
 
कौन आवेदन कर सकते हैं ( Who can apply Seva Bhoj Yojana)
निस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार वही चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स इस योजना का लाभ ले पायेंगे जो बहुत पहले यानी 5 साल पहले से रजिस्टर्ड हैं. वही चैरिटेबल इस योजना का लाभ ले पायेंगे 
 

पैसे रिफंड कैसे किए जाएंगे  ( How to refund money )

हम आपको बता दे की मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार जितने भी लोग  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स जुडे है ।जब भी वह किसी भी सामान को खरीदने जायेंगे तो उनको सबसे पहले जितना भी जी एस टी (GST) का बिल आयेगा वह भरना होगा उसके बाद जो बिल मिला होगा उस बिल को सरकार को दिखाना होगा तब जाकर  उस बिल के हिसाब उन इंस्टीटूशन्स  को जितना जी एस टी, (GST) खाने की सामग्री को खरीदने के दौरान भरा होगा उनको वह पैसे वापस दे दिये जायेंगे । 

 

पैसे रिफंड कैसे ले  प्रक्रिया  ( How to take money refund process )

चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स भरे गये सी जी एस टी (CGST) और आई जी एस टी (IGST) टैक्स  के पैसों को वापस लेने के लिए  आपको सबसे पहले आपको ‘दर्पण पोर्टल’  पर जाना होगा आपको उस पर  आपको रजिस्टर  करवाना होगा उसके बाद आने वाली सभी रसिद को उस पर सम्म्लित करना होगा उसके बाद से मंत्रालय  उन सारी 

रसिदो की जांच कराने के लिए वह आगे एक संस्था को देगा उसके बाद संस्था  उसकी की जांच करेगी जो लगभग 4 सप्ताह  के भितर हो सकता है । जो लोग अपने आपको ‘दर्पण पोर्टल’ पर रजिस्टर करवाया होगा. वह बाद मे जांच कर सकते है । 

इसके बाद से  ‘दर्पण पोर्टल’ रजिस्टर करवाए गए  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स को  संस्था  के द्वारा Approval मिल जाता है तो इन इंस्टीटूशन्स द्वारा भरे गए  सभी टैक्स के पैसों को वापस कर दिया जाएगा इसमे कुछ समय लग सकता है ।

 

कौन आवेदन कर सकते हैं ( Who can apply Seva Bhoj Yojana)

हम आपको बतादे की सरकार की इस स्कीम की मदद से मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार वही चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स इस योजना का लाभ ले पायेंगे जो बहुत पहले यानी 5 साल पहले से रजिस्टर्ड हैं. वही चैरिटेबल इस योजना का लाभ ले पायेंगे  इसके अलाव 5 साल से नीचे वाले चैरिटेबल इस योजना का फायदा नही ले पायेंगे । 

 

New SSC CGL Recruitment Online Form 2020 to 2021 In Hindi

  1. सेवा भोज योजना क्या है ( What is seva Bhoj scheme )

     ‘सेवा भोज योजना’ (Seva Bhoj Yojana ) है इस योजना के मदद से लंगर मे इस्तेमाल किए जाने वाली सभी सामग्रियों पर जो GST पैसे लगते है इस योजना के तहत लगने वाले GST के पैसों को सरकार वापस कर देगी, 

  2. सेवा भोज योजना का बजट  ( Seva Bhoj budget )

    325 करोड़ रुपए

  3. पैसे रिफंड कैसे किए जाएंगे  ( How to refund money )

    मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार जितने भी लोग  चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स जुडे है ।जब भी वह किसी भी सामान को खरीदने जायेंगे तो उनको सबसे पहले जितना भी जी एस टी (GST) का बिल आयेगा वह भरना होगा उसके बाद जो बिल मिला होगा उस बिल को सरकार को दिखाना होगा तब जाकर  उस बिल के हिसाब उन इंस्टीटूशन्स  को जितना जी एस टी, (GST) खाने की सामग्री को खरीदने के दौरान भरा होगा उनको वह पैसे वापस दे दिये जायेंगे । 

  4. कौन आवेदन कर सकते हैं ( Who can apply Seva Bhoj Yojana)

    निस्ट्री ऑफ कल्चर के अनुसार वही चैरिटेबल रिलीजियस इंस्टीटूशन्स इस योजना का लाभ ले पायेंगे जो बहुत पहले यानी 5 साल पहले से रजिस्टर्ड हैं. वही चैरिटेबल इस योजना का लाभ ले पायेंगे 

Trending Topics

Great Jobs